Shivaji Maharaj Death Anniversary 2020: छात्रपति शिवजी महाराज की वीर गाथा

Shivaji Maharaj Death Anniversary 2020: छात्रपति शिवजी महाराज की वीर गाथा 




हेलो दोस्तों  ये पोस्ट शिवजी महाराज की 340 वी पुण्यतिथि पर खास इस पोस्ट में वीर शिवजी महाराज की गाथा पर आधारित है तो दोस्तों स्टार्ट  है 


दोस्तों हम आपको बता दे की मराठा साम्राज्य के संस्थापक शिवजी महाराज की वीर कथा देश में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में प्रख्यात है दोस्तों बता दे की शिवजी महाराज ने अपने वीरता और पराक्रम से मुगलो को खुतने टेकने पर मजबूर कर देने बाले महाराज छत्रपति शिवजी  आज 340वीं पुण्यतिथि है दोस्तों  हर 3 अप्रैल को उनकी पुण्यतिथि मनई जाती है 
Shivaji Maharaj Death Anniversary 2020 छात्रपति शिवजी महाराज की वीर गाथा

दोस्तों आपको बता दे की शिवजी महारज (Shivaji Maharaj } का जन्म 19 फरबरी 1630 को शिवनेरी दुर्ग में हुआ था दोस्तों बता दे की उनके पिता का नाम शाहजी भोसले(shahji Bhoshle) था और उनकी माता का नाम जीजाबाई (Jijabai) था। दोस्तों बता दे शिवजी महाराज ने अपनी माता से ही युद्ध कौशल और राजनीती की विद्या को ग्रहण कर लिया था की दोस्तों बता दे की 3 अप्रैल 1680 में उनका निधन हो गया था दोस्तों सिर्फ 52 साल की उम्र में ही उन्होंने बहुत बहुत कुछ कर दिखाया  बता दे की  शिवजी महाराज ने नौसेना की स्थापना काने बाले राजाओ में सबसे पहले माना जाता है 

दोस्तों बता दे की शिवजी महाराज जितने वीर योद्धा थे दोस्तों और बो उतने ही महँ भी दे दोस्तों बता दे की बो बहुत करुणामयी थे दोस्तों बता दे की शिवजी के विचार बहुत ही प्रेरणा दायी थे और युबा उनके बिचारो को बहुत ही बिनम्रता से ग्रहण करते है 

दोस्तों आईये है शिवजी महाराज के कुछ अनमोल विचारो को 
  • अपना सर कभी मत झुकाओ ,इसे हमेश ऊँचा रखो 
  • कभी भी  दुश्मन को कमजोर मत समझो ,न ही बलबान,जो बो आपके साथ कर रहा है उसपर ध्यान दो 
  • जब आप किसी लच्छ की तन मन से चाहोगे ,तो माँ भगवती की कृपा से जीत आपकी ही होगी